Current Affairs;करेंट अफेयर्स – 31 दिसंबर 2022

दैनिक समसामयिकी (Current Affairs) के मुद्दों की महत्त्वपूर्ण जानकारी आज के इस लेख द्वारा उपलब्ध कराई गई है, जो सभी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में उपयोगी है –

Current Affairs

उत्तर प्रदेश के दो स्थानों के नाम बदले गए

उत्तर प्रदेश सरकार की सिफारिशों के बाद केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्य के दो स्थानों के नाम बदलने पर स्वीकृति प्रदान की है। मंत्रालय ने ‘अनापत्ति’ प्रमाण पत्र (एनओसी) जारी करके उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले में नगर पालिका परिषद ‘मुंडेरा बाजार’ का नाम बदलकर ‘चौरी-चौरा’ और देवरिया जिले के ‘तेलिया अफगान’ गाँव का नाम बदलकर ‘तेलिया शुक्ल’ किया है।

किसी भी स्थान का नाम बदलने के लिए गृह मंत्रालय पहले रेल मंत्रालय, डाक विभाग और भारतीय सर्वेक्षण से सहमति लेता है फिर ‘अनापत्ति’ प्रमाणपत्र देता है। किसी गाँव, कस्बे या शहर का नाम बदलने के लिए कार्यकारी आदेश की आवश्यकता होती है जबकि किसी राज्य का नाम बदलने के लिए संसद में साधारण बहुमत के साथ संविधान में संशोधन की आवश्यकता होती है।


इंडियन बैंक ने लॉन्च किया ‘एमएसएमई प्रेरणा’

हाल ही में भारत सरकार के स्वामित्व वाले सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ‘इंडियन बैंक’ ने राजस्थान में अपना प्रमुख कार्यक्रम ‘एमएसएमई प्रेरणा’ लॉन्च किया। इंडियन बैंक का यह कार्यक्रम राज्य में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) के उद्यमियों के लिए अपना प्रमुख व्यवसाय सलाह कार्यक्रम है।

इंडियन बैंक का ‘एमएसएमई प्रेरणा’ कार्यक्रम किसी भी बैंक द्वारा देश में एमएसएमई क्षेत्र के लिए अपनी तरह की पहली पहल है। इस कार्यक्रम का उद्देश्य उद्यमियों को उनकी स्थानीय भाषाओं में कौशल विकास और क्षमता निर्माण प्रशिक्षण प्रदान करके सशक्त बनाना है।

इसके साथ आवश्यक वित्तीय और प्रबंधकीय कौशल प्राप्त करने में सहायता करना, व्यवसाय में संकट से निपटने की क्षमता, क्रेडिट रेटिंग तथा जोखिम प्रबंधन की गतिशीलता की समझ बढ़ाना है।

इंडियन बैंक के बारे में:

स्वदेशी आंदोलन के अंश के रूप में 15 अगस्त, 1907 को इंडियन बैंक की स्थापना की गई थी। वर्तमान में भारत में 2421 शाखाओं के साथ यह भारत सरकार के स्वामित्व वाला एक सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है।

भारत सरकार द्वारा 1969 में इंडियन बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया था। दिनांक 1 अप्रैल, 2020 को इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक में विलय कर दिया गया।


क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने वार्षिक पुरस्कार का नाम बदला

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने हाल ही में शेन वॉर्न के सम्मान में टेस्ट के वार्षिक पुरस्कार का नाम बदला है। सीए ने पुरुष टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर का अवॉर्ड का नाम बदलकर ‘महान स्पिनर शेन वॉर्न’ किया है।

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के दौरान सीए के मुख्य कार्यकारी निक हॉकले और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों के संघ के सीईओ टॉड ग्रीनबर ने शेन वार्न को श्रद्धांजलि देते हुए यह घोषणा की है।

शेन वार्न के बारे में:

शेन वार्न ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी है, जो इतिहास के सबसे महान गेंदबाजों में से एक माने जाते हैं। वार्न ने अपना पहला टेस्ट मैच 1992 में भारत के खिलाफ खेला था। मुथैया मुरलीधरन के बाद वे 1000 अंतरराष्ट्रीय विकेट लेने वाले दूसरे गेंदबाज बने थे।

वार्न टेस्ट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज है। उन्होंने 15 वर्ष (1992-2007) के टेस्ट कॅरियर में 145 मैचों में 708 विकेट चटकाए हैं। बल्लेबाज के रूप में उन्होंने टेस्ट में 3000+ रन बनाए हैं।

शेन ने वर्ष 2008 में आईपीएल की टीम राजस्थान रॉयल्स के कप्तान की भूमिका निभाई और टीम को जीत दिलाई थी। जनवरी, 2007 में ऑस्ट्रेलिया की इंग्लैंड पर 5-0 की द एशेज की जीत के साथ अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया था। 4 मार्च, 2022 को थाईलैंड में दिल का दौरा पड़ने से शेन वार्न का 52 साल की उम्र में निधन हुआ।


बिजली मंत्रालय और डीआरडीओ ने किया समझौता

विद्युत मंत्रालय ने कमजोर जलविद्युत परियोजनाओं/बिजली स्टेशनों के लिए प्रारंभिक चेतावनी प्रणाली के कार्यान्वयन के लिए रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं।

इस समझौते ज्ञापन पर ऊर्जा सचिव आलोक कुमार और डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ. समीर वी. कामत ने हस्ताक्षर किए हैं।

इस समझौते के तहत हिमस्खलन, भूस्खलन, ग्लेशियर, हिमनदी झीलों और अन्य भू-खतरों के खिलाफ उपयुक्त शमन उपायों को विकसित करने की दिशा में संयुक्त रूप से कार्य किया जाएगा

समझौते के तहत DRDO की विशेषज्ञता का उपयोग जलविद्युत परियोजनाओं और बिजली स्टेशनों के लिए व्यापक प्रारंभिक चेतावनी प्रणाली विकसित करने में किया जाएगा

बिजली मंत्रालय ने केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आर. के. सिंह के नेतृत्व में पहाड़ी क्षेत्रों के ऊपरी इलाकों में स्थित हाइड्रो पावर परियोजनाओं में पूर्व चेतावनी प्रणाली (EWS) को लागू करने की पहल की है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top